अग्निपथ हिंसा : 4 दिनों में करीब 500 ट्रेनें रद्द, 1300 रेलगाड़ियों पर पड़ा असर, रेलवे के सूत्रों ने बताया


अग्निपथ हिंसा : 4 दिनों में करीब 500 ट्रेनें रद्द, 1300 रेलगाड़ियों पर पड़ा असर, रेलवे के सूत्रों ने बताया

Agnipath Protest : अग्निपथ योजना के विरोध को लेकर कई राज्यों में ट्रेनों में आग लगाई गई

नई दिल्ली:

अग्निपथ योजना को लेकर बिहार, यूपी, बंगाल समेत कई राज्यों में हिंसा को देखने को मिली है. उपद्रवियों ने खासतौर पर रेलवे की संपत्ति को नुकसान पहुंचाया है औऱ कई ट्रेनें जला दी हैं.  रेल मंत्रालय सूत्रों ने कहा है, रविवार को भी करीब 250 ट्रेन रद्द हुई हैं. अब तक पिछले 4 दिनों में करीब 500 ट्रेन रद्द हुई हैं. पिछले 4 दिनों में करीब 1300 ट्रेनों पर असर पड़ा है. रेलवे के सूत्रों ने रविवार को जानकारी दी कि रविवार को ही करीब 250 रेलगाड़ियां कैंसल करनी पड़ी हैं. जबकि पिछले चार दिनों में यह आंकड़ा 500 के पार रहा है. ट्रेनें रद्द होने से बड़े पैमाने पर रेलयात्रियों को अपनी मंजिल पर पहुंचने में परेशानी हो रही है. नई दिल्ली, पटना, मुगलसराय, वाराणसी समेत तमाम रेलवे स्टेशनों पर यात्री 2-2 दिन से इंतजार कर रहे हैं कि शायद उनके सफर के लिए कोई ट्रेन मिल जाए. 

यह भी पढ़ें

ईस्टर्न रेलवे ने भी हिंसा और असम में बाढ़ को देखते हुए कई रेलगाड़ियों को रद्द कर दिया था. साथ ही कई ट्रेनों के समय में बदलाव कर दिया है. बिहार, बंगाल, असम और यूपी के रास्ते से जाने वाली कई रेलगाड़ियां प्रभावित हुई हैं. अग्निपथ स्कीम को लेकर  विरोध प्रदर्शन के कारण पूर्वी रेलवे ने रविवार को कोलकाता और पश्चिम बंगाल के अन्य क्षेत्रों को जोड़ने वाली तमाम ट्रेनों को रद्द कर दिया था. हावड़ा-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस हावड़ा स्टेशन से अपराह्न तीन बजकर 15 मिनट पर रवाना हुई.

उन्होंने पूर्वा एक्सप्रेस के अपराह्न 4.50 बजे पर रवाना होने की बात कही.

रविवार को हावड़ा-कालका नेताजी एक्सप्रेस, कोलकाता-अमृतसर एक्सप्रेस, योग नगरी ऋषिकेश-दून एक्सप्रेस, सियालदह-जयनगर गंगासागर एक्सप्रेस और कोलकाता-गोरखपुर पूर्वांचल एक्सप्रेस सहित कई एक्सप्रेस ट्रेन रद्द कर दी गईं. हावड़ा-डिब्रूगढ़ कामरूप एक्सप्रेस को भी परिचालन बाधाओं के कारण रविवार के लिए रद्द कर दिया गया है.

असम के कई जिले बाढ़ की चपेट में है, जिससे रेल सेवाएं चरमरा गई हैं. इससे पहले बिहार में 18 जून को सुबह 4 बजे से शाम 8 बजे तक ट्रेनों का आवागमन बंद किया गया था. 19 जून के लिए ट्रेनों के आवाजाही के समय में परिवर्तन किया गया है. अग्निपथ योजना को लेकर बिहार, यूपी, पंजाब-हरियाणा समेत कई राज्यों में विरोध को देखते हुए रेलवे ने अब तक 369 के करीब ट्रेनों को रद्द किया है. इसमें तमाम लंबी दूरी की ट्रेनें भी शामिल हैं. 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.