जम्मू-कश्मीर के लोग मेरी पार्टी का नाम और झंडा तय करेंगे : गुलाम नबी आजाद


खास बातें

  • आजाद ने कहा- कांग्रेस हमारे खून से बनी थी, कंप्यूटर, ट्विटर से नहीं
  • कांग्रेस के लोग अब बसों में जेल जाते हैं, नाम लिखवाकर घर चले जाते हैं
  • यही कारण है कि कांग्रेस आगे बढ़ने योग्य नहीं रह गई है

नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के पूर्व मुख्यमंत्री और हाल ही में कांग्रेस छोड़ने वाले वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद (Ghulam Nabi Azad) ने आज जम्मू की सैनिक कॉलोनी में एक जनसभा को संबोधित किया. उन्होने अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए कहा कि वे जम्मू-कश्मीर के लोगों के साथ खड़े हैं. प्रदेश के 73 वर्षीय दिग्गज नेता आजाद की ओर से आज अपनी नई राजनैतिक पार्टी (Political party) के गठन और उसके नाम की घोषणा करने की संभावना थी. उन्होंने अपनी पार्टी के गठन की तो बात कही लेकिन उसके नाम की घोषणा नहीं  की. 

यह भी पढ़ें

आजाद ने कहा कि, मैंने अभी तक अपनी पार्टी के लिए नाम तय नहीं किया है. जम्मू-कश्मीर के लोग पार्टी का नाम और झंडा तय करेंगे. मैं अपनी पार्टी को एक हिंदुस्तानी नाम दूंगा जिसे हर कोई समझ सके. मेरी पार्टी इस बात पर ध्यान देगी कि पूर्ण राज्य की बहाली हो, भूमि का अधिकार और मूल निवासी को रोजगार मिले.  

आजाद ने पिछले हफ्ते कहा था कि वे जल्द ही एक नई पार्टी शुरू करेंगे. उन्होंने कहा था कि पार्टी की पहली इकाई जम्मू-कश्मीर में गठित होगी, जहां चुनाव होने हैं.   

गुलाम नबी आजाद ने कहा कि, कांग्रेस हमारे खून से बनी थी, कंप्यूटर से नहीं, ट्विटर से नहीं. लोग हमें बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन उनकी पहुंच कंप्यूटर और ट्वीट तक सीमित है. यही वजह है कि कांग्रेस जमीन पर कहीं नजर नहीं आती.

आजाद कांग्रेस को निशाना बनाते हुए कहा कि, “कांग्रेस के लोग अब बसों में जेल जाते हैं, वे डीजीपी, कमिश्नरों को बुलाते हैं, अपना नाम लिखवाते हैं और एक घंटे के भीतर चले जाते हैं. यही कारण है कि कांग्रेस आगे बढ़ने योग्य नहीं रह गई है.”

जम्मू में गुलाम नबी आजाद की रैली, कांग्रेस नेताओं ने बोला हमला





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *