दिल्ली में तेज आंधी और बारिश का असर : बुरी तरह बिगड़ा ट्रैफिक; सैकड़ों पेड़ गिरे, दो लोगों की मौत


राष्ट्रीय राजधानी के कई हिस्सों में सोमवार को तेज हवाओं के साथ भारी बारिश से कई कारें क्षतिग्रस्त हो गईं, सड़कों पर जाम लग गया, कई पेड़ उखड़ गए और बिजली गुल हो गई. बारिश से दिल्ली के कई इलाकों में जलभराव भी हो गया. राष्ट्रीय राजधानी में आंधी के कारण दिल्ली हवाई अड्डे पर कम से कम पांच उड़ानों का मार्ग परिवर्तित किया गया और 70 उड़ानों में विलंब हुआ.

बारिश के बाद हवाई अड्डे के पास पालम वेधशाला में तापमान में 13 डिग्री और दक्षिणी दिल्ली के सफदरजंग में 16 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई. 

दिल्ली के पूर्वी और मध्य हिस्सों में तूफान का सबसे ज्यादा असर पड़ा. टूटे पेड़ और उनकी शाखाएं सड़कों पर पड़ी दिखाई दीं. पेड़ों के गिरने के करीब 300 कॉल अधिकारियों के पास आए.

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने मौसम के इस घटनाक्रम के लिए उत्तर पश्चिमी राजस्थान और उससे सटे पाकिस्तान पर एक पश्चिमी विक्षोभ-प्रेरित चक्रवाती परिसंचरण को जिम्मेदार ठहराया. विभाग ने कहा है कि बंगाल की खाड़ी से नमी लेकर चलने वाली पुरवाई हवाएं चक्रवाती परिसंचरण बढ़ा रही हैं.

इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने की सूचना है. पालम मौसम केंद्र ने हवा की अधिकतम गति 70 किमी प्रति घंटे दर्ज की.

दिल्ली में गरज के साथ बारिश होना एक सामान्य घटना है. आईएमडी के वरिष्ठ वैज्ञानिक आरके जेनामणि ने कहा कि शहर में औसतन मार्च से मई की अवधि में 12 से 14 दिनों में ऐसा मौसम देखा जाता है.

शहर के कुछ इलाकों में जलजमाव और बिजली गुल होने की भी खबर है. वाहनों और राहगीरों पर पेड़ गिरने और दीवार गिरने की घटनाएं होने के कारण पुलिस और दमकल कर्मियों ने बचाव के कई कॉलों का जवाब दिया, जबकि नगर निगम सड़कों को साफ करने में व्यस्त था. मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली में शाम 5.30 बजे तक 17.8 मिमी बारिश दर्ज की गई.

मध्य दिल्ली में जामा मस्जिद इलाके में एक 50 वर्षीय व्यक्ति की उस समय मौत हो गई जब वह अपने आवास के बाहर खड़ा था. तेज हवाओं के दौरान पड़ोसी के घर की बालकनी का एक हिस्सा उस पर गिर गया. पुलिस उपायुक्त (मध्य) श्वेता चौहान ने बताया कि पीड़ित की पहचान कैलाश के रूप में हुई है और उसे दरियागंज के संजीवन अस्पताल में मृत घोषित कर दिया गया. पुलिस ने कहा कि उत्तरी दिल्ली के अंगूरी बाग इलाके में बसीर बाबा के रूप में पहचाने जाने वाले 65 वर्षीय बेघर व्यक्ति की पीपल का पेड़ गिरने से मौत हो गई.

एक अन्य मामले में चांदनी चौक के कबूतर मार्केट के पास एक क्रेटा कार पर नीम का पेड़ गिरा. इस घटना में एक साल के बच्चे सहित एक परिवार के तीन सदस्यों को बचा लिया गया.

ऐतिहासिक जामा मस्जिद को भी नुकसान हुआ क्योंकि इसके मध्य गुंबद का सिरा टूट गया. शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने कहा कि एक मीनार और मस्जिद के अन्य हिस्सों से पत्थर गिरने से दो लोग घायल हो गए.

पुलिस के मुताबिक, सोमवार को रात आठ बजे तक पेड़ों के गिरने के 294 कॉल आए और दिल्ली फायर पुलिस को घर ढहने के आठ कॉल मिले.

अधिकारियों ने बताया कि आंधी-तूफान के कारण दिल्ली से रवाना होने वाली कम से कम 40 और यहां आने वाली 30 उड़ानों में विलंब हुआ. यहां आने वाली कम से कम पांच उड़ानों का मार्ग परिवर्तित किया गया.

एनडीएमसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘शाम सवा सात बजे तक पेड़ गिरने और शाखाएं टूटने के बारे में कुल 101 शिकायतें मिलीं. जिन इलाकों में ऐसी घटनाओं की खबर मिली है वहां रास्ता साफ करने का काम चल रहा है. भगवान दास रोड, कनॉट प्लेस, एसपी मार्ग समेत कई इलाकों को पहले ही साफ कर दिया गया है.”

अधिकारियों ने बताया कि जामिया मिलिया इस्लामिया के भीतर भी कई पेड़ उखड़ गए हैं और इमारत की दीवारें भी क्षतिग्रस्त हुई हैं. भारी बारिश और तेज हवाओं से विभिन्न स्थानों पर दिल्ली सरकार द्वारा लगाए राष्ट्रध्वज भी क्षतिग्रस्त हो गए हैं.

गोल मार्केट इलाके में भाई वीर सिंह मार्ग और संसद मार्ग थाने के समीप भी पेड़ उखड़ गए, जिससे यातायात बाधित हुआ. कस्तूरबा गांधी मार्ग पर पेड़ उखड़ने से वहां वाहनों की आवाजाही पूरी तरह से बंद कर दी गई. राजधानी के साउथ एक्सटेंशन बाजार में खंभों से वाहनों को नुकसान पहुंचने जबकि विजय चौक पर दिल्ली यातायात पुलिस बूथ के तेज हवाओं के कारण गिरने की तस्वीरें भी सामने आई हैं.

हवा इतनी तेज थी कि संसद मार्ग पर एक इमारत में लगा एयर कंडीशनर गिर गया, जिससे कारों और ऑटो रिक्शा को नुकसान पहुंचा. दिल्ली दमकल सेवा के अनुसार, मकान गिरने की आठ सूचनाएं मिली हैं और उनके वाहन घटनास्थल पर गए हैं.

आईटीओ, एम्स फ्लाईओवर, डीएनडी के समीप यातायात बाधित होने से लोगों को काफी परेशानी हुई. राष्ट्रीय राजधानी में विभिन्न इलाकों से जलभराव की भी खबरें आई हैं. दिल्ली यातायात पुलिस ने ट्वीट किया, ‘‘रेलवे अंडरपास पुल प्रह्लादपुर में जल भराव के कारण एमबी रोड पर यातायात बाधित हुआ है, कृपया इस मार्ग पर यात्रा करने से बचें.”

यह भी पढ़ें – 

दिल्ली में तेज आंधी और बारिश से वाहन क्षतिग्रस्त, तापमान गोता लगाकर 16 डिग्री नीचे गिरा

दिल्ली में तेज बारिश के साथ ओलावृष्टि और आंधी से उड़ानें प्रभावित; सड़कों पर भरा पानी





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.