दिल्ली में शुक्रवार तक भीषण गर्मी से राहत के आसार नहीं, बारिश के लिए इस दिन तक करना होगा इंतजार


इस बीच, दक्षिण-पश्चिम मानसून तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल, दक्षिण-पश्चिम और पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी के कुछ और हिस्सों में आगे बढ़ गया है.

मॉनसून के कम से कम एक और सप्ताह तक कमजोर रहने की संभावना है. वहीं 15 जून तक तेज होने के बाद अच्छी बारिश हो सकती है. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के बेस स्टेशन सफदरजंग में अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से तीन डिग्री अधिक था.

मौसम विभाग का कहना है कि देश के उत्तर-पश्चिम और मध्य भागों में अगले दो से तीन दिनों में अधिकतम तापमान में कोई बड़े बदलाव की उम्मीद नहीं है और इसके बाद पारा दो से तीन डिग्री तक लुढ़कने की संभावना है.

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा, “7 से 9 जून के दौरान जम्मू संभाग, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा-दिल्ली और पूर्वी मध्य प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर लू चलने की संभावना है.”

वहीं उत्तर प्रदेश, झारखंड और पश्चिम मध्य प्रदेश में बुधवार को लू चलने की उम्मीद है. मानसून के मोर्चे पर, दक्षिण प्रायद्वीपीय भारत में अरब सागर से आने वाली पछुआ हवाओं के कारण, अगले पांच दिनों में कर्नाटक, केरल और लक्षद्वीप में गरज के साथ व्यापक वर्षा होने की संभावना जताई जा रही है.

मौसम विभाग ने बुधवार को दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, तटीय कर्नाटक और केरल में शनिवार तक अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश की संभावना जताई है.

ये भी पढ़ें:-

Weather Alert: दिल्ली, मध्य प्रदेश भीषण लू की चपेट में, नौगांव में पारा पहुंचा 47 डिग्री के पार

दिल्ली-NCR में भयंकर लू की चेतावनी! IMD ने जारी किया ‘ऑरेंज अलर्ट’; जानें आपके शहर के मौसम का हाल

दिल्ली में गर्मी का सितम जारी : कई इलाकों में पारा 45 डिग्री के ऊपर; मौसम विभाग ने जारी किया येलो अलर्ट

दिल्‍ली में बारिश और तेज हवाओं ने दी गर्मी से राहत, पेड़ गिरने से जगह-जगह लगा जाम

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.