नेशनल हेराल्ड मामला : कोलकाता और मुम्बई में सर्च के दौरान ED को मिली कुछ संदिग्ध एंट्री


नेशनल हेराल्ड मामला : कोलकाता और मुम्बई में सर्च के दौरान ED को मिली कुछ संदिग्ध एंट्री

प्रवर्तन निदेशालय को सर्च के दौरान हवाला ट्रांजेक्शन के भी सुराग मिले हैं

नई दिल्ली:

नेशनल हेराल्ड मामले में ईडी की तरफ से जांच तेज होती जा रही है. कोलकाता और मुम्बई में सर्च के दौरान ED को कुछ संदिग्ध एंट्री मिली है. साथ ही जानकारी के अनुसार सर्च के दौरान हवाला ट्रांजेक्शन के भी सुराग मिले हैं. कोलकाता में डॉटेक्स कंपनी के दफ्तर से यंग इंडिया को दिए गए 50 लाख रुपये के लोन से जुड़े अहम दस्तावेज भी बरामद हुए हैं. इससे पहले प्रवर्तन निदेशालय (ईडी)ने बुधवार को दिल्ली में कांग्रेस के स्वामित्व वाले नेशनल हेराल्ड कार्यालय में मौजूद यंग इंडियन के कार्यालय को अस्थायी रूप से सील कर दिया.

यह भी पढ़ें

इधर कांग्रेस ने एंजेसी की कार्रवाई पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है. राजस्‍थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा ‘नेशनल हेराल्‍ड’ समाचार पत्र के मुख्यालय सहित अन्य परिसरों पर मंगलवार को की गई छापेमारी की आलोचना करते हुए इसे केंद्र सरकार की बौखलाहट का प्रतीक बताया है. गहलोत ने कहा कि केंद्र सरकार ईडी के माध्‍यम से कांग्रेस को बदनाम करने का चाहे कितना भी प्रयास कर ले, लेकिन अंत में जीत सच्चाई की होगी.

गहलोत ने मंगलवार को ट्वीट किया, ‘‘ईडी द्वारा हेराल्ड हाउस पर छापेमारी केंद्र सरकार की बौखलाहट का प्रतीक है. (कांग्रेस नेता) सोनिया गांधी एवं राहुल गांधी को पूछताछ के नाम पर प्रताड़ित करने के बाद ईडी अब स्वयं को शर्मिंदगी से बचाने के लिए इस तरह की कार्रवाई कर रही है.”

गहलोत ने लिखा, ‘‘इस पूरे मामले में धन का कोई लेन देन ही नहीं हुआ, तो धन शोधन कैसे हो सकता है. ईडी ने जुलाई, 2015 में इस मामले को बंद कर दिया था परन्तु केंद्र सरकार ने उस समय के जांच अधिकारी का तबादला कर नए अधिकारियों पर दबाव डाला और बदले की भावना के तहत कार्रवाई शुरू की.”

ये भी पढ़ें-

Video : रवीश कुमार का प्राइम टाइम : क्या ताइवान दूसरा यूक्रेन बनने जा रहा है?



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *