“फिर से अनिवार्य हो सकता है मास्क अगर…”- महाराष्ट्र में COVID-19 के बढ़ते मामलों के बीच बोले अजीत पवार


मास्क का उपयोग अनिवार्य करना होगा

पवार ने यहां पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि राज्य सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए निगरानी रख रही है कि स्थिति नियंत्रण से बाहर न जाए. उपमुख्यमंत्री ने कहा, ‘अगर कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों की संख्या बढ़ती रही तो मास्क का उपयोग अनिवार्य करना होगा.’

एक सवाल के जवाब में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता अजित पवार ने कहा कि महाराष्ट्र को मार्च 2022 तक केंद्र सरकार से 29,647 करोड़ रुपये का वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) बकाया मिलना था. दो दिन पहले राज्य को 14,145 करोड़ रुपये मिले, लेकिन अभी तक 15,502 करोड़ रुपये नहीं मिले हैं. पवार महाराष्ट्र के वित्त मंत्री भी हैं. 

केंद्र सरकार पर साधा निशाना  

उन्होंने कहा, “हमें अब भी केंद्र से जीएसटी बकाए का 2019-20 का 1,029 करोड़ रुपये, 2020-21 का 6,470 करोड़ रुपये प्राप्त करने हैं जबकि 2021-22 का बकाया 8,003 करोड़ रुपये है.” पवार ने कहा कि राज्य सरकार ने ईंधन और गैस पर करों में कमी की है, जिसके चलते उसे 3,500 करोड़ रुपये के राजस्व का नुकसान हुआ है. उपमुख्यमंत्री ने कहा कि राज्यसभा चुनाव में खुला मतदान होगा और इसलिए खरीद-फरोख्त में किसी के शामिल होने का सवाल ही नहीं उठता है. 

यह भी पढ़ें –

…”तो तीन हिस्सों में टूट जाएगा Pakistan”…, Imran Khan ने दी धमकी

भारत में साल 2021 में पूरे साल अल्पसंख्यकों पर हमले हुए : धार्मिक स्वतंत्रता पर US रिपोर्ट

Video: पाटीदार नेता हार्दिक पटेल बीजेपी में शामिल, कांग्रेस ने की आलोचना

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.