बिहार : ललन सिंह ने बीजेपी से कहा, मणिपुर में धन बल का प्रयोग किया, इसमें माहिर हैं आप लोग


बिहार : ललन सिंह ने बीजेपी से कहा, मणिपुर में धन बल का प्रयोग किया, इसमें माहिर हैं आप लोग

जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन ललन सिंह ने कहा है कि अटल बिहारी वाजपेयी ने एनडीए बनाया था.

पटना:

जनता दल यूनाईटेड (JDU) के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन ललन सिंह (Rajiv Ranjan Lalan Singh) बिहार (Bihar) के बीजेपी नेता और सांसद सुशील मोदी (Sushil Modi) पर मणिपुर (Manipur) में जेडीयू विधायकों के बीजेपी में शामिल होने के मुद्दे पर लगातार हमले कर रहे हैं. आज उन्होंने एक वीडियो के जरिए सीशल मोदी, पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर तीखे प्रहार किए. उन्होंने कहा कि बीजेपी (BJP) की सारी कार्रवाईयां हताशा की परिचायक हैं.     

यह भी पढ़ें

राजीव रंजन सिंह (ललन सिंह) ने कहा, सुशील जी, लगता है आप कुछ ज़्यादा ही व्याकुल हैं और व्याकुलता में गलत-सलत बात भी बोलते हैं.  अरुणाचल प्रदेश के 6 विधायकों को आपने 2020 में अलग किया. 2020 में बीजेपी में ज्वाइन कराया. आपने गठबंधन धर्म का पालन नहीं किया. 

उन्होंने कहा कि एनडीए आदरणीय अटलबिहारी वाजपेयी जी ने बनाया था. उन्होंने एक आचार संहिता बनाई थी कि एनडीए के दलों में एक दल से दूसरे दल में कोई किसी को शामिल नहीं करेगा. आपने उसका भी उल्लंघन किया. एनडीए आपके अभी के प्रधानमंत्री और नेताओं का बनाया हुआ है? एनडीए श्रद्धेय अटल जी, आडवाणी जी, मुरली मनोहर जोशी जी का बनाया हुआ है. उन्होंने गठबंधन धर्म का पालन किया था. 

ललन सिंह ने कहा कि, आपने जो 2020 में किया, तब हम एनडीए में थे, या एनडीए से बाहर थे? हम एनडीए में थे लेकिन इसके बावजूद आपने सात में से छह विधायकों को भाजपा में शामिल किया था. अब आप गलत बयान दे रहे हैं तो इसका कौन हिसाब देगा. जनता सब देखती रहती है कि क्या करते हैं आप. 

उन्होंने कहा कि, मणिपुर के विधायकों के बारे में आपने बताया. मुख्यमंत्री जी ने 9 अगस्त को त्याग पत्र दिया, 10 अगस्त को नए मंत्रिमंडल का शपथ ग्रहण हुआ और 10 अगस्त को ही मणिपुर के छह विधायक पटना आए. वे मुख्यमंत्री जी के साथ घंटों रहे. सभी ने एकजुटता दिखाई. वे 11 अगस्त को भी रहे, पटना का म्युजियम देखा. हम लोगों का लगातार संपर्क था. वे बैठक में भी आने वाले थे. लेकिन इस बीच आप लोगों ने धन बल का प्रयोग किया. इसमें आप लोग माहिर हैं, करते रहते हैं. महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश में यही काम किया. दिल्ली में तिकड़म, चाल चल रहे थे. झारखंड में भी कर रहे हैं. 

सिंह ने कहा कि, आपकी यह सारी कार्रवाई हताशा की परिचायक है. दो दिन पहले प्रधानमंत्री ने केरल में भाषण दिया भ्रष्टाचारियों पर कार्रवाई हो रही है. सब दल इकट्ठे हो रहे हैं. यह हताशा का बयान है, आपकी घबड़ाहट का बयान है. गलत-सलत बयान मत दीजिए, हम लोगों की शुभकामनाएं सुशील जी आपके साथ हैं. आप जल्दी कुछ बन जाईए, हम लोगों को कोई आपत्ति नहीं होगी.





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.