वरुण गांधी बोले, अग्निवीर पेंशन के हकदार नहीं तो जनप्रतिनिधियों को क्यों मिले ये सहूलियत


वरुण गांधी बोले, अग्निवीर पेंशन के हकदार नहीं तो जनप्रतिनिधियों को क्यों मिले ये सहूलियत

बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने अग्निवीरों को पेंशन नहीं दिये जाने को लेकर आवाज उठाई है. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

भाजपा नेता वरुण गांधी (Varun Gandhi) केंद्र की अग्निपथ योजना (Agneepath Scheme) में रिटायर्ड सेना के जवानों को पेंशन (Pension) नहीं दिये जाने पर मुखर आवाज उठाई है. इस योजना के तहत रिटायर होने के बाद अग्निवीरों को पेंशन नहीं दी जाएगी, जिसके बाद से सरकार की ओर से सांसदों और विधायकों को दी जाने वाली करोड़ों की पेंशन को लेकर लोग लगातार सवाल उठा रहे हैं. इसी को लेकर वरुण गांधी ने शुक्रवार को एक ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने सांसद के तौर पर मिलने वाली पेंशन को छोड़ने की बात कही. साथ ही उन्होंने सभी सांसदों और विधायकों से सवाल भी किया, क्या हम विधायक और सांसद अग्निवीरों के लिए पेंशन नहीं छोड़ सकते?

यह भी पढ़ें

वरुण ने ट्वीट कर कहा, “अल्पअवधि की सेवा करने वाले अग्निवीरों को पेंशन का अधिकार नहीं है तो जनप्रतिनिधियों को यह सहूलियत क्यों? राष्ट्रीय रक्षकों को पेंशन का अधिकार नहीं है तो मैं अपनी पेंशन छोड़ने को तैयार हूं। क्या हम विधायक और सांसद अपनी पेंशन छोड़ यह सुनिश्चित नहीं कर सकते कि अग्निवीरों को पेंशन मिले?”

 ये भी पढ़ें: राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू को समर्थन देंगी BSP चीफ मायावती, कहा- “विपक्ष ने सलाह-मशविरा नहीं किया”

अग्निपथ योजना को लेकर वरुण गांधी ने मंगलवार (21 जून, 2022) को सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट किया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि अग्निपथ योजना लागू होने के बाद सरकार के कई विभाग और देश भर के तमाम बड़े उद्योगपतियों की तरफ से अग्निवीरों को नौकरी पर रखने की घोषणा की जा रही है, जो स्वागत योग्य है. उन्होंने इस योजना को लेकर युवाओं से भी बात की है, जो इस पर काफी असंतोष की याद आ रहे हैं. उनका कहना है कि सरकारों का रिटायर फौजियों के प्रति रवैया उदासीन रहा है. आंकड़े भी इसी बात की गवाही दे रहे हैं.

“देस की बात: अग्निपथ योजना के विरोध में भारत बंद का मिलाजुला असर





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.