हमारे विधायक एकजुट होकर तीनों सीटें जीतेंगे : राज्यसभा चुनाव पर गहलोत ने कहा


हमारे विधायक एकजुट होकर तीनों सीटें जीतेंगे : राज्यसभा चुनाव पर गहलोत ने कहा

गहलोत ने उदयपुर में संवाददाताओं से बातचीत की. 

जयपुर:

राजस्थान (Rajasthan) के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने बुधवार को कहा कि पार्टी व उसके सभी समर्थक विधायक एकजुट हैं और राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस के तीनों उम्मीदवार जरूर जीतेंगे. गहलोत ने उदयपुर में संवाददाताओं से कहा, ‘‘हम तीनों सीटें जीतेंगे, हमारे विधायक एकजुट हैं. ”राजस्थान से राज्यसभा की चार सीटों के लिए 10 जून को चुनाव होना है.  कांग्रेस ने राज्यसभा चुनाव के लिए मुकुल वासनिक, रणदीप सुरजेवाला और प्रमोद तिवारी को अपना उम्मीदवार बनाया है.  वहीं भाजपा ने पूर्व मंत्री घनश्याम तिवाड़ी को उम्मीदवार बनाया है.  

यह भी पढ़ें

भाजपा व राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (RLP) ने मीडिया कारोबारी और निर्दलीय उम्मीदवार सुभाष चंद्रा को समर्थन दिया है. गहलोत ने कहा, ‘‘हमारे पास शुरू से ही तीनों सीटों के लिए 126 विधायकों का समर्थन हैं. ” भाजपा द्वारा निर्दलीय उम्मीदवार चंद्रा को समर्थन दिए जाने पर सवाल उठाते हुए गहलोत ने कहा, ‘‘भाजपा समर्थित उम्मीदवार जो बनाए गए हैं उन्हें सोचना चाहिए कि जब उनके (भाजपा) पास संख्या बल नहीं है तब उन्होंने स्पांसर क्यों किया? इसके मायने हैं कि हॉर्स ट्रेडिंग की मंशा शुरू से ही रही है और इसलिए उन्होंने दूसरा उम्मीदवार खड़ा किया जबकि उनके पास इसके लिए बहुमत नहीं है. ”

उन्होंने कहा, ‘‘हम तीनों सीटें जीतेंगे.  हमारे विधायक एकजुट हैं और हमें गर्व है कि पहले भी जब राजनीतिक संकट आया था तब विधायक एक जुट रहे थे जबकि उन्हें तमाम लालच दिया गया था. ”भाजपा द्वारा राज्य में हॉर्स ट्रेडिंग की आशंका जताते हुए प्रवर्तन निदेशालय व भारतीय निर्वाचन आयोग को पत्र लिखे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘परसों चुनाव है और ये अब पत्र लिख रहे हैं… दरअसल उनका षड्यंत्र कामयाब नहीं हुआ.  हमारे तमाम लोग एकजुट हैं.  उनका हॉर्स ट्रेडिंग असफल हो गया इसलिए वे बौखलाए हुए हैं. ”

पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ विवादित टिप्पणी से जुड़े विवाद की पृष्ठभूमि में भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, ‘‘दुनिया देख रही है.  भारत दुनिया से अलग-थलग पड़ जाएगा.  इनको इस देश की चिंता होनी चाहिए.  जो सत्ता में हैं उन्हें देश के भविष्य की चिंता होनी चाहिए.  अमेरिका क्या बोल रहा है, अरब देश क्या बोल रहे हैं, हमारे मुल्क का क्या होगा? जो मान-सम्मान 70 साल में हमने, हमारे नेताओं ने कमाया है, उसे ये तहस-नहस कर देंगे.  यह हमारी चिंता है. ”

बीजेपी पर ध्रुवीकरण की राजनीति करने का आरोप लगाते हुए गहलोत ने कहा, ‘‘ध्रुवीकरण करके हिंदू -मुस्लिम के नाम पर कब तक राजनीति करेंगे? हमारा मानना है कि अंतिम विजय सत्य की होगी, सत्य हमारे साथ है. ”गहलोत बुधवार को दिन में जयपुर में कृषि विपणन राज्यमंत्री मुरारीलाल मीणा व कांग्रेस विधायक रूपाराम मेघवाल के घर गए और उनकी कुशलक्षेम जानी.  इस दौरान कांग्रेस उम्मीदवार वासनिक व सुरजेवाला के साथ-साथ कैबिनेट मंत्री विश्वेंद्र सिंह उनके साथ थे. गहलोत शाम को वापस उदयपुर पहुंचे.  वे उदयपुर में महाराणा भूपाल अस्पताल गए और हिरणमगरी क्षेत्र की कृषि मंडी में दुकान की दीवार गिरने की दुर्घटना में घायल हुए श्रमिकों के हाल चाल जाने.  इस दुर्घटना में तीन श्रमिकों की मृत्यु हो गई. 

 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.