Ashadha Gupt Navratri 2022: आषाढ़ गुप्त नवरात्रि कब से शुरू है, जानिए तिथियां और शुभ मुहूर्त


Ashadha Gupt Navratri 2022: आषाढ़ गुप्त नवरात्रि कब से शुरू है, जानिए तिथियां और शुभ मुहूर्त

Ashadha Gupt Navratri 2022: आषाढ़ नवरात्रि 30 जून, गुरुवार से शुरू हो रही है.

खास बातें

  • साल में पड़ती है चार नवरात्रि.
  • आषाढ़ की गुप्त नवरात्रि होती है खास.
  • आषाढ़ गुप्त नवरात्रि में होती है 10 महाविद्या की उपासना.

Ashadha Gupt Navratri 2022: नवरात्रि मां दुर्गा की उपासना के लिए खास मानी जाती है, इसलिए हिंदू धर्म में नवरात्रि (Ashadha Navratri) का विशेष महत्व है. साल भर में चार नवरात्रि (Navratri) पड़ती है. जिसमें से एक आषाढ़ नवरात्रि (Ashadha Navratri) है. आषाढ़ मास की नवरात्रि को गुप्त नवरात्रि (Gupt Navratri 2022) कहा जाता है. गुप्त नवरात्रि में मां दुर्गा (Maa Durga) की पूजा के अलावा दस महाविद्या काली, तारा, षोडशी, भुवनेश्वरी,  भैरवी, छिन्नमस्ता, धूमावती, बगलामुखी, मातङ्गी और मां कमला की पूजा होती है. इसके अलावा गुप्त नवरात्रि में तंत्र पूजा का भी विशेष महत्व है. आषाढ़ नवरात्रि, आषाढ़ मास की प्रतिपदा से दशमी तिथि तक मानाई जाती है. इस बार आषाढ़ नवरात्रि 30 जून से शुरू हो रही है. जो कि 9 जुलाई तक चलेगी. आइए जानते हैं इस साल की आषाढ़ नवरात्रि के बारे में. 

यह भी पढ़ें

आषाढ़ गुप्त नवरात्रि 2022 तिथि | Ashadha Gupt Navratri 2022 Date

हिंदी पंचांग के मुताबिक आषाढ़ नवरात्रि की शुरुआत 30 जून, गुरुवार से हो रही है. जिसका समापन 09 जुलाई, शनिवार को होगा. 

आषाढ़ गुप्त नवरात्रि 2022 शुभ मुहूर्त | Ashadha Gupt Navratri 2022 Shubh Muhurat

आषाढ़ नवरात्रि की शुरुआत प्रतिपदा तिथि से होती है. ऐसे में प्रतिपदा तिथि का आरंभ 29 जून को सुबह 8 बजकर 21 मिनट से हो रहा है. वहीं प्रतिपदा तिथि का समाप्ति 30 जून को सुबह 10 बजकर 49 मिनट पर होगी. इसके अलावा अभिजित मुहूर्त 30 जून को सुबह 11 बजकर 57 मिनट से 12 बजकर 53 मिनट तक है. घट स्थापना के लिए शुभ मुहूर्त 30 जून को सुबह 5 बजकर 26 मिनट से 06 बजकर 43 मिनट तक है.

आषाढ़ गुप्त नवरात्रि की प्रमुख तिथियां | Ashadha Gupt Navratri Dates

  • 30 जून, प्रतिपदा तिथि – घटस्थापना और मां शैलपुत्री की पूजा
  • द्वितीया तिथि – मां ब्रह्मचारिणी पूजा
  • तृतीया तिथि – मां चंद्रघंटा की पूजा
  • चतुर्थी तिथि – मां कूष्मांडा की पूजा
  • पंचमी तिथि – मां स्कंदमाता की पूजा
  • षष्ठी तिथि – मां कात्यायनी की पूजा
  • सप्तमी तिथि – मां कालरात्रि की पूजा
  • अष्टमी तिथि – मां महागौरी की पूजा
  • नवमी तिथि – मां सिद्धिदात्री की पूजा
  • दशमी तिथि- नवरात्रि का हवन और पारण

10 महाविद्या कौन-कौन हैं | Dasha Mahavidya

1. काली 2. तारा 3. षोडशी 4. भुवनेश्वरी 5. भैरवी 6. छिन्नमस्ता 7. धूमावती 8. बगलामुखी 9. मातङ्गी 10. कमला

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. एनडीटीवी इसकी पुष्टि नहीं करता है.)



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.